बॉलीवुड स्टार अक्षय कुमार के सोशल मिडिया पर शेयर किए गए वीडियोज पर गौर करे तो एक बात खास है की वो आखिर में जय हिन्द कहना नहीं भूलते. हाल ही में जब बंगलुरु की घटना पर अक्षय ने अपनी राय रखी तब भी उन्होंने ऐसा ही किया. इस बात से ये साबित होता है की अक्षय अपने देश से कितना प्यार करते है. akshay लेकिन आपको यह जानकार आश्चर्य हो सकता है की कई बॉलीवुड फिल्मों में देशभक्त की भूमिका निभाने वाले अक्षय कुमार भारतीय नागरिक नहीं है. अक्षय कुमार कनाडाई नागरिक है. अक्षय के बारे में ये जानकारी पहले ही मिडिया में पब्लिश हुई है. अप्रैल २०१६ में यह खबर आई थी की अक्षय को इंग्लैंड के हीथ्रो एयरपोर्ट पर उन्हें रोक दिया गया. तभी कई भारतीय लोगों को पहली बार पता चला की वो एक कनाडाई नागरिक है और उनके पास कनाडा का पासपोर्ट है. द इकोनॉमिस्ट में छपी एक पुरानी रिपोर्ट में अक्षय कुमार ने कहा था की उनके पास ड्युअल सिटिजनशिप है. लेकिन भारतीय कानून के तहत कोई भारतीय दो देशों का एक साथ नागरिक नहीं हो सकता है. दूसरे देश की नागरिकता लेते ही भारतीय सिटिजनशिप ख़ारिज हो जाती है. कांसुलेट जनरल ऑफ़ इंडिया की एक वेबसाइट के मुताबिक़, साथ ही ऐसा करने वाले को अपना भारतीय पासपोर्ट अनिवार्य तौर पर जमा भी कराना पड़ता है. एल प्रतिष्ठित पत्रिका को दिए इंटरव्यू में अक्षय ने कहा था, मैं कनाडा को सच में प्यार करता हु, खुली जगह, खूबसूरत वादी, चौड़ी और साफ़ सड़के, ये मेरे देश से बिलकुल उल्टा है. मैं कनाडा की विंडसर यूनिवर्सिटी से डॉक्टरेट की डिग्री लेकर बहुत सम्मानित महसूस करता हूं. हालांकि कनाडाई नागरिकता लेने के बाद अक्षय कुमार 'ओवरसीज सिटीजन ऑफ़ इंडिया' हो सकते है. ओवरसीज सिटीजन को भारत में आजीवन रहने का अधिकार तो मिलता है, लेकिन वोट देने या फिर चुनाव लड़ने का अधिकार नहीं होता.